पदोन्नति में आरक्षण नही तो वंचित व पिछड़ा वर्ग को नही सहन

सरकार संवैधानिक अधिकार आरक्षण को खत्म करने को प्रयासरत

सीएम के नाम नायब तहसीलदार पटौदी को सौंपा गया ज्ञापन

फतह सिंह उजाला
पटौदी ।
  हरियाणा के अनुसूचित जाति व पिछड़ा वर्ग के कर्मचारियों को पदोन्नति में आरक्षण लाभ नही लेने देने के फैसले का विरोध करते हुए कॉन्ग्रेस नेत्री व जिला पार्षद सुनीता वर्मा ने मुख्यमंत्री खट्टर के नाम नायब तहसीलदार पटौदी को ज्ञापन सौंपा। उन्होंने नायब तहसीलदार प्रदीप को सौंपे ज्ञापन में कहा कि हरियाणा सरकार ने रोस्टर सिस्टम से पदोन्नति करने संबंधी पत्र को वापिस लेकर एससी-बीसी वर्गों के हितों पर कुठाराघात किया है। हरियाणा सरकार ने नवंबर 2018 को पत्र जारी करके रोस्टर सिस्टम से प्रमोशन का प्रावधान किया था, लेकिन अब आरक्षण को खत्म करने की साजिश के तहत नए - नए पत्र जारी किए जा रहे हैं।

जिला पार्षद वर्मा ने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा इसी 23 जून को पत्र जारी करके वर्ष 2018 के उस पत्र को वापिस ले लिया। इससे एससी ध् बीसी वर्ग के हजारों कर्मचारी प्रभावित हुए हैं। पुराने आदेशानुसार इन वंचित व पिछड़े वर्ग के कर्मचारियों को आरक्षण नीति के अनुसार रोस्टर प्रणाली के जरिये पदोन्नति मिलनी थी परंतु हैरानी की बात है कि इसके अनुसार हिदायतों को किसी भी विभाग में लागू नही किया गया। और अब यह फैसला प्रदेश के इन वर्गों के सभी कर्मचारियों पर सरकार की गाज गिरने से कम नही है।

कॉन्ग्रेस नेत्री ने मुख्यमंत्री से आग्रह करते हुए कहा है कि इन तबकों को सामाजिक न्याय दिलाने की खातिर 17 जून 1995 से पदोन्नति में आरक्षण देने की अधिसूचना जारी करके 15 नवंबर 1995 से पदोन्नति में आरक्षण देने का व सभी विभागों को तुरन्त प्रभाव से उसके अनुसार कार्य करने का आदेश दिया जाए।
पूर्व उपजिला प्रमुख रही वर्मा ने सरकार को चेताते हुए कहा कि अगर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने इस दलित पिछड़ा विरोधी फैसले को वापिस नही लिया तो अपने अधिकारों की रक्षा खातिर इस महामारी में भी मजबूरन ये वर्ग सड़कों पर उतरेगा। उन्होंने कहा कि भविष्य में होने वाली सभी प्रकार की कच्ची व पक्की भर्तियों में भी आरक्षण के नियमों की पालना की जाए और अनुसूचित जाति के खाली पड़े बैकलॉग को विशेष भर्ती अभियान चला कर जल्द भरा जाए। इस मौके पर उनके साथ राजू उपमन, ओमप्रकाश दहिया, मुन्नीलाल दौचानिया, धर्मबीर सिंह करेला, सरोज, राजबाला, सुशीला, बुधराम ठेकेदार व राजेन्द्र सहित क्षेत्र के अनेक गणमान्य लोग साथ रहे।

और नया पुराने