बीते 24 घंटे में 106 नए पॉजिटिव केस दर्ज किये गए

बीते 24 घंटे में फिर गई दो जान कुल मृतक 107 हुए

सोमवार को स्वस्थ होने वालों की संख्या कुल 80 रही

फतह सिंह उजाला
गुरुग्राम/ पटौदी । 
गुरुग्राम में कोरोना कोविड-19 पॉजिटिव केस की संख्या एक बार फिर एक सौ से अधिक की रही है । उम्मीद की जा रही थी कि सोमवार को स्वस्थ होने वालों का आंकड़ा अधिक रहेगा और पॉजिटिव केस कम से कम संख्या में दर्ज होने चाहिए ।

स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी बुलेटिन के मुताबिक जिला गुरुग्राम में बीते 24 घंटे के दौरान दो लोगों की जान चली गई है । इस प्रकार मृतकों की संख्या 107 तक पहुंच गई है । सोमवार को स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी बुलेटिन के मुताबिक गुरुग्राम जिला में अभी भी 1051 कोरोना केस मौजूद है । बीते 24 घंटे के दौरान जिला ग्राम के अंदर 106 कोरोना पॉजिटिव केस दर्ज किए गए हैं । वही इस दौरान कोरोना कोविड-19 को पराजित कर स्वस्थ होने वालों की संख्या 80 स्वास्थ्य विभाग के द्वारा बताई गई है।  जिला गुरुग्राम में अभी तक 6966 कोरोना के केस दर्ज किए जा चुके हैं । इनमें से 5808 संक्रमित व्यक्ति पूरी तरह से स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग जिला प्रशासन के द्वारा सतत प्रयासों के बावजूद जिला गुरुग्राम में कोरोना कॉविड 19 पॉजिटिव केस का आंकड़ा सैंकड़ा से नीचे नहीं आ पा रहा है।

लोगों का मानना है कि जैसे-जैसे पॉजिटिव केस की संख्या एक सौ और इससे नीचे आनी आरंभ हो जाएगी तो कभी यह महसूस किया जा सकेगा कि कोरोना अब यहां स्वास्थ्य विभाग की रणनीति के आगे अपनी हार मानने लगा है । लेकिन कोरोना कोविड 19 पॉजिटिव और नेगेटिव केस के बीच में उतार-चढ़ाव का खेल अभी भी बना हुआ है ।

अब बात करते हैं गुरुग्राम सिटी से बाहर देहात कहलाने वाले पटौदी , फरुखनगर और सोहना ब्लॉक की तो सोमवार को एक बार फिर से पटौदी ब्लॉक में अपने मुकाबिल फरुखनगर और सोहना ब्लॉक के मुकाबले सबसे अधिक कोरोना कॉविड 19 के पाजीटीव केस दर्ज किए गए हैं । पटौदी ब्लॉक में स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी बुलेटिन के मुताबिक सोमवार को 9 कोरोना कॉविड 19 केस केस दर्ज किए गए हैं।  वही फर्रुखनगर ब्लॉक में सोमवार को बीते 24 घंटे के दौरान एक भी नया केस पॉजिटिव दर्ज नहीं किया गया है । इसी प्रकार से सोहना ब्लॉक के अंदर महज एक मात्र कोरोना का पॉजिटिव केस सामने आया है।  इस प्रकार ग्रामीण अंचल कहे जाने वाले पटौदी और फर्रूखनगर और सोहना ब्लॉक की बात की जाए तो यह बात कहने में कतई भी गुरेज नहीं है कि पटौदी ब्लॉक में स्थानीय स्वास्थ्य विभाग , स्थानीय प्रशासन के लाख प्रयासों के बावजूद भी यहां कोरोना संक्रमण की चेन तोड़े नहीं टूट पा रही है । यही सबसे अधिक चिंता के साथ-साथ गंभीर चिंतन का विषय बना हुआ है ।

और नया पुराने