MADE  IN CHINA का बहिष्कार

हरियाणा न्यूज अपडेट
पटौदी । हाल ही में लद्दाख में एलएसी पर चीनी सेना के द्वारा किए गए कायराना और धोखे से हमले में शहीद हुए भारतीय सैनिकों के सम्मान और सैनिकों के साथ बऱती गई बर्बरता के विरोध में लोगों का गुस्सा दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है । शुक्रवार को पटौदी क्षेत्र के मलिकपुर गांव के निवासी शिवचरण ने स्नेपडील से ऑनलाइन एक कॉलर माईक ओर्डर किया था जिसको ओर्डर के समय उसके बारे मे कोई जानकारी भी नही दर्शायी गई हुई थी की यह वस्तु किस देश मे बनी है,गत दो दिन बाद जब व उस ओर्डर को प्राप्त करता है तो व उस कॉलर माईक की पेकेज पर देखता है की MADE IN CHINA लिखा हुआ है,इसी कारण उन्होने निर्णय लिया की व चीनी सामान नही खरीदेंगे बल्कि व चीन से निर्मित प्रत्येक सामांन का पुर्ण बहिष्कार करते है  और उन्होने सभी छोटे-बड़े दुकानदारों और व्यापारियों का आह्वान किया है कि आने वाला समय भारतीय संस्कृति के मुताबिक त्योहारी सीजन है और ऐसे में चीनी सामांन खरीद कर बाजार में बेचने के लिए नहीं ले कर के आए। क्योंकि किसी भी देश की रीढ़ को तोड़ना हो तो उसके लिए सबसे बड़ा और अचूक हथियार आर्थिक चोट पहुंचाना ही है। ऐसे में प्रत्येक भारतीय सहित सभी छोटे-बड़े व्यवसाई , दुकानदारों का भी दायित्व बनता है कि अब समय आ गया है हम सभी को अपने देश अपनी सेना के हित के बारे में और अधिक गंभीर होना पड़ेगा । इसका एकमात्र विकल्प यही है कि चीन को जितनी अधिक आर्थिक चोट पहुंचाई जाए वह कम है, इसलिए चीन में निर्मित सामान, अथवा चीन के द्वारा बनाए गए विभिन्न प्रकार के मोबाइल के गैजेट्स का भी बहिष्कार अविलंब करना चाहिए।
और नया पुराने