ज्योति जांगड़ा, हिसार 

देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस महामारी से बचने के लिए सरकार सही दिशा में अपने कदम उठा रही हैं। सरकार गरीब जनता की स्थिति को ध्यान में रखते हुए गरीब कल्याण योजना का जल्द ही विस्तार करेगी। मोदी जी ने कहा कि अब तक सरकार 80 करोड़ से ज्यादा भारतीयों को मुफ्त में राशन प्रदान कर रही है और आगे भी रहे ऐसे ही नवंबर तक मुफ्त में राशन प्रदान करेगी। सभी गरीब परिवारों को हर महीने 5 किलो गेहूं या चावल व 1 किलो चना मुफ्त में मिलेगा। इसमें 90 हज़ार करोड़ का खर्च आएगा। मोदी जी ने कहा कि केवल देश के अन्नदाताओं यानि किसानों के कारण ही सरकार इस लायक है कि गरीब जनता को मुफ्त में खाना प्रदान कर सके। सरकार ने इस महामारी से बचने के लिए अनलॉक-1 किया था।  जिसमें कुछ रियायतें भी दी गई थी। अनलॉक-1 तीन  जून से लेकर 30 जून तक था। 

1 जुलाई से अनलॉक-2 की तैयारी-
अनलॉक-2 एक जुलाई से लागू होगा इसमें सरकार ने कुछ हद तक रियायते भी दी हैं तथा कुछ पर रोक भी लगाई  हैं। 

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने उठाये सवाल-
कुछ समय पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो जारी करते हुए प्रधानमंत्री से कुछ कदम उठाने की मांग की थी। राहुल गांधी ने भारत-चीन सीमा विवाद का मुद्दा उठाते हुए पूछा कि प्रधानमंत्री खुद जनता को यह बताएं कि वह भारत की धरती से चीन को कैसे और कब हटाएंगे।
राहुल गांधी ने पूछा कि "पूरा भारत यह जानना चाहता है कि चीन ने भारत की पवित्र भूमि पर अपना कदम बढ़ा लिया है। चीन लद्दाख में चार जगह अंदर बैठा हुआ है। ऐसे में हिंदुस्तान को आप कब और कैसे बचाएंगे।
करोना महामारी के समय लॉकडाउन के कारण गरीब लोगों को बहुत सारे संकट हो रहे हैं। आप इन संकटों को कम करने के लिए हर गरीब परिवार के ख़ाते में लगभग 7500 रुपए डाले।"
राहुल गांधी ने वीडियो के ज़रिए कहा, "न्याय योजना जैसी एक योजना लागू की जाए। परमानेंट न हो, छह महीने के लिए चलाइए। हर ग़रीब परिवार के खाते में 7,500 रुपये महीने का डालिए। इससे डिमांड क्रिएट होगा, अर्थव्यवस्था फिर से चालू होगी। सरकार ने पैसा ना होने का हवाला देते हुए इस मांग को एक नहीं तीन या चार बार ख़ारिज कर दिया।"
पहले करोना और अब भारत-चीन विवाद पर राहुल गांधी लगातार मोदी सरकार से सवाल करते हुए नज़र आ रहे हैं। 

और नया पुराने