मनीषबलवान सिंह जांगड़ा, हिसार
सविंधान निर्माता बाबा साहेब डॉ भीम राव अंबेडकर के मुंबई के दादर स्थिति घर 'राजगृह' में मंगलवार की रात को कुछ असामाजिक तत्वों ने तोड़फोड़ की है। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज़ की है। 


पुलिस के मुताबिक मंगलवार रात को कुछ अज्ञात लोगों ने घर की खिड़कियों पर पत्थर मारे। घर के सीसीटीवी व गमलों को तोड़ा गया है। पुलिस ने कहा की सीसीटीवी में दो युवक घर में पत्थर मारते दिख रहे हैं। घटना को अंजाम देने के बाद दोनों युवक फ़रार हो गए। एफआईआर दर्ज़ कर मामले की तफ़्तीश चल रही है।
घटना के दौरान प्रकाश अंबेडकर घर पर नही थे।


मुंबई के दादर में स्थिति दो मंजिला हेरीटेज बंगले में बाबा साहेब अम्बेडकर का संग्रहालय मौजूद है जिसमे बाबा साहेब की मूर्तियां, किताबें, बर्तन, चित्र, राख रखी हुई हैं। राजगृह में फ़िलहाल बाबा साहेब की बहू व उनके पोते वंचित अघाड़ी नेता प्रकाश अम्बेडकर, आनंदराव और भीमराव रहते हैं। बताया जा रहा है की घटना के समय घर में प्रकाश अम्बेडकर मौजूद नही थे। प्रकाश अम्बेडकर महाराष्ट्र के ही विदर्भ के अकोला में मौजूद थे। घटना की ख़बर मिलने के बाद उन्होंने अपने सर्मथकों से शांत रहने की अपील की है। 

महाराष्ट्र के मंत्री ने दिए जांच के आदेश।
ऑल इंडिया प्रोफेशनल कांग्रेस ने बुधवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मामले का संज्ञान लेते हुए तुंरत करवाई की मांग की है। वहीं महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने जांच के आदेश दिए हैं उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मामले की जांच चल रही है, दोषियों के खिलाफ सख़्त करवाई होगी।

आधुनिक भारत के निर्माता डॉ बाबा साहेब अम्बेडकर।

डॉ भीम राव अम्बेडकर सविंधान निर्माता होने के साथ साथ आधुनिक भारत के निर्माता भी हैं। उनको महिलाओं व दलितों का मशीहा कहा जाता है। सविंधान में सभी को वोट का अधिकार, महिलाओं के लिए हिंदू कोड बिल, मजदूरों के लिए लेबर कानून जिसमे सभी के लिए आठ घण्टे मजदूरी या काम करने का प्रावधान शामिल है, आरबीआई का गठन, सामाजिक न्याय के तौर पर आरक्षण जैसे प्रावधानों के लिए जाना जाता है। डॉ अम्बेडकर भारतीय समाज में जातिगत भेदभाव के मुखर विरोधी थे उन्होंने जाति व्यवस्था को "राष्ट्रद्रोही" तक कहा था।
और नया पुराने