गुरूग्राम में कोरोना संक्रमण का पाॅजिटिविटी रेट 9.6 प्रतिशत हुआ

जिला प्रशासन आईसोलेशन, टेस्टिंग, टेकिंग और टेसिंग पर गंभीर

फतह सिंह उजाला
गुरूग्राम ।
  गुरूग्राम के मण्डलायुक्त अशोक सांगवान ने  कहा कि प्रशासन के प्रयासों से गुरूग्राम में कोरोना संक्रमण का पाॅजिटिविटी रेट 9.6 प्रतिशत हो गया है और सोमवार तक यह 9 प्रतिशत से कम आने की आशा है। सांगवान स्वतंत्रता सेनानी जिला परिषद हाॅल परिसर में आयोजित संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उनके साथ गुरूग्राम के उपायुक्त अमित खत्री तथा सिविल सर्जन डा. वीरेंद्र यादव भी उपस्थित थे।

मण्डलायुक्त ने कहा कि गुरूग्राम में जिला प्रशासन द्वारा उन क्षेत्रों पर फोकस किया जा रहा है जहां पर कोरोना संक्रमण के केस ज्यादा हैं। प्रशासन ने ऐसे क्षेत्रों को लार्ज आउट ब्रेक रीजन घोषित किया है ताकि उनमंें टेस्टिंग, ट्रैकिंग व टेªसिंग की प्रकिया को तेज करके संक्रमण के दायरे को और घटाया जा सके। उन्होंने आशा जताई कि आने वाले दिनों में एलओआर क्षेत्रों में भी कोरोना के केसों में कमी आएगी। उन्होंने कहा कि आपने देखा होगा कि एलओआर का क्षेत्र भी पहले की अपेक्षा कम हुआ है। गुरूग्राम में पिछले कुछ दिनों में कोरोना संक्रमण रेट काफी कम हुआ है। प्रशासन का प्रयास है कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई पूरी गंभीरता के साथ उसी गति से जारी रखी जाए जिस गति से अभी तक चलाई जा रही थी। उन्होंने कहा कि एलओआर भी कम हुए हैं और इनमें आइसोलेशन, टेस्टिंग, टेªकिंग का अभियान तेजी से चलाया जाएगा।

सांगवान ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा कोरोना संक्रमण के बड़े प्रकोप वाले क्षेत्रों (एलओआर) में टेस्टिंग रेट बढाया गया है। इसके अलावा, कंटेनमेंट जोन के क्षेत्रों में भी कमी आई है लेकिन इसका मतलब यह बिलकुल नही है कि हमें सतर्कता बरतना छोड़ दें बल्कि हमें कोरोना के खिलाफ अपनी लड़ाई और मजबूती के साथ लड़नी है। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास है कि कोरोना की गति को मजबूती से कम किया जाए।
श्री सांगवान ने कहा कि इसमें कोई शक नहीं है कि जिला के कुछ इलाकों में कोरोना संक्रमण के मामले बढे हैं, उनमें मुख्य तौर पर सोहना के इलाके शामिल हैं। इनके अलावा, गुरूग्राम जिला के भी कुछ क्षेत्रों में कोरोना संक्रमित मरीजों के मामले बढे हैं। इन क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए योजनाबद्ध तरीके से काम किया जा रहा है। इन क्षेत्रों को एलओआर घोषित किया गया है और यहां पर टेस्टिंग रेट बढाया जाएगा। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन आइसोलेशन, टेस्टिंग, टेªकिंग तथा टेªसिंग पर गंभीरता से काम कर रहा है।

उन्होंने जिला वासियों से अपील की है कि वे इस त्यौहार के मौसम में सतर्कता बरतें और कहीं भी अधिक संख्या में एकत्रित ना हो। उन्होंने कहा कि शिवरात्रि के दिन लोग मंदिर आदि में ज्यादा संख्या में एकत्रित ना हों और सजग व सतर्क रहें। कोरोना संक्रमण को गंभीरता से लेते हुए भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर ना जाएं। साथ ही उन्होंने विश्वास जताया कि अब लोग खुद इतने जागरूक हो गए हैं कि वे ज्यादा संख्या में एकत्रित नहीं होंगे और ना ही भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर जाएंगे।

और नया पुराने