आतंक के खिलाफ सुरक्षा बलों की एक और कामयाबी सामने आई है। घाटी में सुरक्षा बलों के जवानों ने आतंक की एक बड़ी साजिश को नाकाम कर दिया है। अनंतनाग के एनकाउंटर में आज सुबह 3 आतंकी मार गिराए। जिसमें से एक हिज्बुल कमांडर मसूद ढेर हो गया है। व दो अन्य लश्कर आतंकवादी जिसमें से एक जिला कमांडर भी ढेर हो गया। 
ANI के मुताबिक हिज्बुल कमांडर मसूद जम्मू के डोडा का रहने वाला था। मसूद पर रेप का केस भी था। डोडा से भागकर वह कश्मीर आतंकी संगठन में शामिल हो गया। मसूद के ख़ात्मे से डोडा जिला एक बार फिर आतंक मुक्त हो गया है। डोडा का मसूद आखिरी आतंकी था जो एक्टिव था। फिलहाल वह भी ढेर हो गया है। घाटी में सुरक्षा जवान दिन-रात भारत की रक्षा कर रहे हैं। हर दिन सुरक्षा जवान आतंक पर जीत हासिल कर रहे हैं। 
    सुरक्षाबलों ने मई महीने से ही घाटी में 38 आतंकियों को मार गिराया है। पूरी साल में 116 आतंकवादी ढेर किये जा चुके हैं। पिछले 10 सालों में यह एक बड़ी कामयाबी है। जम्मू कश्मीर पुलिस और सीआरपीएफ जवानों का यह एक सांझा ऑपरेशन था। आतंकियों के पास AK-47 और दो पिस्टल बरामद हुए हैं। सुरक्षाबलों को कोई नुकसान नहीं हुआ है। जानकारी के मुताबिक सुरक्षा बलों ने अनंतनाग के खुलचोहर इलाके को घेर लिया है और सर्च ऑपरेशन जारी है। 
और नया पुराने