बी.फार्मा कोर्स पहले ही मान्यता प्राप्त,इस वर्ष इसका फिर से हुआ नवीनीकरण

यह मान्यता विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति प्राप्त करने एवं उनके रोजगार संवर्धन में होगी सहायक 

रेवाड़ी ब्यूरो।
इंदिरा गांधी विश्वविद्यालय, मीरपुर ने एक और उपलब्धि हासिल करते हुए अपने यहां कंप्यूटर साइंस विभाग में चल रहे बीटेक (B.Tech) कोर्स के लिए अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद् (AICTE) से मान्यता प्राप्त कर ली है।
यह कोर्स वर्ष 2017 में शुरू किया गया था। तभी से विश्वविद्यालय प्रशासन निरंतर इसके लिए ए.आई.सी.टी.ई. की मान्यता लेने के लिए प्रयासरत था। आखिरकार कुलपति प्रो. जयप्रकाश यादव एवं कुलसचिव प्रो. प्रमोद कुमार के कुशल नेतृत्व में इसके लिए आवश्यक विभिन्न प्रकार की इंफ्रास्ट्रक्चर आवश्यकताओं एवं अन्य औपचारिकताओं को शीघ्रता से पूरा करके यह उपलब्धि हासिल की है। फार्मेसी विभाग में चल रहा बी.फार्मा. का कोर्स पहले ही इस मान्यता को प्राप्त कर चुका है। इस वर्ष इसका फिर से नवीनीकरण कर दिया गया है। यह मान्यता विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति प्राप्त करने एवं उनके रोजगार संवर्धन में सहायक होगी।
कंप्यूटर साइंस विभाग की अध्यक्ष डॉ. सविता श्योराण ने बताया कि विभाग में बी.टेक. कंप्यूटर साइंस और एम.सी.ए. का कोर्स चलाया जा रहा है। दोनों ही कोर्स में 60 सीटें है। अब यह मान्यता मिलने के उपरांत बी.फार्मा. की तरह ही बी.टेक. कोर्स के दाखिले भी हरियाणा स्टेट टेक्निकल एजुकेशन सोसायटी के माध्यम से किए जाएंगे। हमारे विभाग के विद्यार्थी निरंतर हर क्षेत्र में बहुत अच्छा कर रहे हैं और इसी कारण उन्हें विप्रो, इंफोसिस, आई.बी.एम. एवं टी.सी.एस. जैसे नामी संस्थानों में ऊंचे पैकेज पर प्लेसमेंट भी मिलती रही है।
उन्होंने बताया की यह विभाग अपनी विशेष रोजगारोन्मुखी प्रशिक्षण के लिए विख्यात है, जिसके तहत विद्यार्थियों को नियमित Industry Internship कराई जाती है, ताकि उनका अधिकाधिक placement हो सके या फिर वे स्वयं उद्यमकर्त्ता के तौर पर अपने को स्थापित कर सकें। इसके अतिरिक्त विभाग में 3 शोधार्थियों की Ph.D. पूरी हो चुकी है व अन्य कई अपना Ph.D. शोध कार्य कर रहे हैं।
फार्मेसी विभाग के अध्यक्ष डॉ. सुनील कुमार ने इस उपलब्धि का श्रेय कुलपति प्रो. जय प्रकाश यादव, कुलपति प्रो. प्रमोद कुमार के कुशल नेतृत्व को दिया। विभागों की इस उपलब्धि पर कुलपति प्रो. जय प्रकाश यादव, कुलसचिव प्रो. प्रमोद भारद्वाज एवं अधिष्ठाता शैक्षणिक मामले प्रो. मंजू परुथी ने बधाई दी।
कुलपति ने कहा कि यह पूरी कंप्यूटर साइंस फैकल्टी और फार्मेसी विभाग की फैकल्टी के प्रयासों का नतीजा है। मैं दोनों विभागों को बधाई देता हूं। वहीं कुलसचिव प्रो. प्रमोद कुमार ने कहा कि कुलपति प्रो. जय प्रकाश यादव के कुशल नेतृत्व एवं विश्वविद्यालय के सभी शैक्षणिक एवं गैर शैक्षणिक स्टाफ के सामूहिक प्रयासों से हमारा विश्वविद्यालय निरंतर नित नई ऊंचाइयों को छूता रहेगा।
और नया पुराने