विभिन्न अवैध कालोनियों में पुलिस की मौजूदगी में एक्शन

दो दर्जन से भी अधिक अवैध निमार्ण किये गए ध्वस्त


फतह सिंह उजाला
पटौदी।
 फर्रुखनगर नगरपालिका प्रशासन ने बुधवार को शहर की विभिन्न अवैध कालोनियों में भारी पुलिस अमले के साथ डयूटी मर्जिस्टेट रणसिंह गोदारा की मौजूदगी में भारी तोड़फोड़ करके भू-माफियाओं के हौंसले पस्त किए। छुटपुट विरोध के बाद पीला पंजा निर्बाध गति से करीब चार घंटे तक अतिक्रमणकारियों के सपनों को चकन्नाचूर करता रहा। पीले पंजे पर राजनीतिक दवाब बनाने के लिए कई बार प्रयास किए गए। लेकिन नपा सचिव ने विधायक, संतरी, मंत्री के फोन की प्रवाह किए बिना अतिक्रमण तोडा जारी रखा। किसी नहीं सुनी और अपने फौजी अंदाज में तोडफोड करते हुए आबगे बढ़ते रहे। तोड फोड दस्ते ने दो दर्जन से अधिक दुकान, मकान, दो दर्जन के करीब डीपीसी, चबूतरे आदि भी हटाये गए।

पालिका सचिव के के यादव ने बताया कि नपा द्वारा बार बार लोगों को जागरुक किया जाता है कि अवैध कॉलोनियों में प्लाट ना खरीदे और बिना मानचित्र पास कराये किसी भी प्रकार का निर्माण न करे। ऐसा करने से राजस्व को भारी हानि उठानी पड़ रही है। बावजूद इसके भी लोग अपनी अपनी पहुंच के अनुरुप नपा नियमों को ताक पर रख कर अवैध निर्माण किए जा रहे है। अवैध निर्माणों पर सिंकजा कसने के लिए नपा द्वारा सभी अतिक्रमणकारियों को नोटिस भी जारी किए गए। लेकिन निर्माण कार्यो की गति कम नहीं हुई। मजबूरी में उन्हें तोडफोड पर विवश होना पड़ा है। उन्होंने बताया कि नोटिस अवधी के दौरान दो भवन निर्माण कर्ताओं ने नक्से के रुप में  करीब 2 लाख रुपए की फीस भी जमा कराई है। लोगों को चाहिए कि वह ऑन लाइन मानचित्र जमा कराया और भवन निर्माण करे। ऐसा करने से उनके खून पसीने से कमाई दौलत बर्बाद नहीं जाएगी।


और नया पुराने