मुख्यमंत्री से न्याय की गुहार के लिए एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

मजदूर आज भी अपनी न्यायिक मांगों को लेकर सड़कों पर

फतह सिंह उजाला
गुरुग्राम।
 शनिवार को मारुति सुजुकी मजदूर संघ के बैनर तले सभी यूनियनों ने 18 जुलाई 2012 को मारुति मानेसर में हुई अप्रिय घटना में साजिस के तहत मजदूरों को दोषी ठहराए जाने से हुए घोर अन्याय के विरुद्ध आवाज उठाई। मिनी सचिवालय तक सैंकड़ों की संख्या में सोसल डिस्टेंसिंग के साथ जुलूस निकालते हुए एसडीएम को अपनी मांगों को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।

संघ के नेता अजमेर सिंह ने कहा कि वर्ष 2012 में हुई अप्रिय दुर्घटना में एचआर मैनेजर की मौत का सहारा लेकर कंपनी प्रबंधन व हरियाणा सरकार की मिलीभगत से 150 मजदूरों को जेल के अंदर डाल दिया गया था और 13 मजदूर आज भी जेल में आजीवन कारावास की सजा भुगत रहे हैं, जबकि मैनेजर की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दम घुटने से मृत्यु होने के प्रमाण हैं। इस फैसले का श्रमिक यूनियनों ने पुरजोर विरोध किया था और एक निष्पक्ष न्यायिक जांच की मांग की थी लेकिन 8 साल बीत जाने तक भी अभी तक कोई न्यायिक जांच नहीं हुई।
                 
संघ के अध्यक्ष कुलदीप जांघू ने बताया कि तत्कालीन हरियाणा सरकार ने सोची-समझी साजित के तहत जो एसआईटी नियुक्त की थी उसने 216 लोगों पर आरोप लगाया था लेकिन कंपनी प्रबंधन ने 546 स्थाई मजदूरों के साथ 1800 ठेकेदार के कर्मचारियों को भी काम से निकाल दिया था। प्रोविजनल कमेटी से रामनिवास ने कहा कि जांच में करीब 450 से ज्यादा दोष साबित नहीं हुआ और ना ही किसी प्रकार का मुकद्दमा है, उनको बिना किसी की जांच के बर्खास्त कर दिया। वो बर्खास्त मजदूर आज भी अपनी न्यायिक मांगों को लेकर सड़कों पर हैं वह कानून के चक्कर काट रहे हैं। मिनी सचिवालय पर एकत्रित होकर डीसी कार्यालय तक जुलूस निकालकर संघ के नेताओं ने सभा के माध्यम से वर्तमान हरियाणा सरकार को इस मसले पर बातचीत कर हल निकालने का आग्रह किया कि औद्योगिक शांति को ध्यान में रखते हुए सरकार हो इस मसले पर शीघ्रातिशीघ्र बातचीत कर इसका हल निकालना चाहिये।

सभा में मारुति सुजुकी वर्कर्स यूनियन से अजमेर प्रधान, महासचिव दौलत राम, मुख्य सरंक्षक पवन लठवाल, अमित शर्मा, नीरज सैनी, विकास कुमार, नवीन कुमार, नवीन कुमार प्रजापति, राकेश कुमार, मनिष कुमार, जयवीर सिंह, अमरेंद्र कुमार, मारुति उद्योग कामगार यूनियन से मुख्य सरंक्षक कुलदीप सिंह काला, उपप्रधान नरेश मोर, महासचिव कुलदीप जांघू, विनोद शर्मा, राजकुमार, मारुति सुजुकी पावरट्रेन एंप्लाइज यूनियन से सुभाष शर्मा, संदीप डीएलसी, दिनेश, सतबीर, श्री भगवान, ललित त्यागी, विरेंदर, सुजुकी बाइक एंप्लाइज यूनियन यूनियन से सुजुकी मोटरसाइकिल से सुभाष गोदारा, गुरप्रीत सिंह, जगपाल सिंह, बेलसोनिका से प्रधान अतुल, अजित, राजपाल, राजेश, प्रोविजनल कमेटी से रामनिवास, खुशीराम, जितेंद्र आदि नेता शामिल हुए।


और नया पुराने