पटौदी बलाक की देहात की चैधर के लिए निकाले गए ड्रा

पटौदी के 75 गांवों में से 25 सरपंच चुनी जाएंगी महिलाएं

25 में से 20 महिला सामान्य और 5 अनुसूचित वर्ग की

10 गांव के सरपंच अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित

पटौदी के एसडीएम की मौजूदगी में निकाले गए ड्रा

फतह सिंह उजाला
पटौदी ।
 छोटी सरकार अर्थात देहात की चैधर के लिए अब दावेदारों को नए सिरे से कसरत करनी होगी।  सरपंच पदों के लिए आरक्षण के निकाले गए ड्रा में बड़ा उलटफेर इस बार रहा है । रोटेशन सिस्टम के मुताबिक ड्रा पटौदी के खंड विकास एवं पंचायत कार्यालय में विभिन्न गांव के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में निकाले गए।  पिछली योजना में आरक्षित थे , इस बार उन्हें अलग रखा गया । पटौदी ब्लॉक में 75 पंचायतें हैं और 75 सरपंचों के लिए पटौदी के आर ओ एसडीएम राजेश कुमार प्रजापत की मौजूदगी में पंचायत चुनाव के लिए ड्रा निकाले गए । इस ड्रा के मौके पर ड्रा निकालने वालों में मुख्य रूप से सरपंच एकता मंच के जिला अध्यक्ष अजीत सिंह, कैप्टन बलबीर, विक्रम यादव, विक्रम ठेकेदार, यादवेंद्र गोगली, तारीफ कुंडू, मास्टर हरि सिंह, पवन कुमार, विक्रम यादव के अलावा और भी पंचायत प्रतिनिधि शामिल रहे। पंचायत चुनाव में सरपंच पदों के आरक्षण के मौके पर बीडीपीओ अरुण कुमार यादव सहित अनेक महिला पंचायत प्रतिनिधि और गणमान्य व्यक्ति भी मौजूद रहे।


आने वाले समय में पंचायत चुनाव के दौरान पटौदी के विधायक सत्य प्रकाश जरावता के पैतृक गांव लोकरो में इस बार सरपंच पद महिला के लिए आरक्षण के ड्रा मे निकला है , अर्थात विधायक जरावता के गांव में महिला सरपंच बनेगी । पटौदी ब्लॉक में सामान्य वर्ग की महिलाओं के लिए जिन गांव में सरपंच पद आरक्षित हुआ है , वह क्रमशः इस प्रकार से हैं । सामान्य वर्ग की महिला के लिए बृजपुरा, हेड़ाहेडी, इंछापुरी, नूरगढ,़ हकदार पुर, मेहनिया वास, बलेवा, हुसैनका, लोकरा, बपास, नानू खुर्द, चंादला डूंगरवास, पहाड़ी, बासपदमका, सिधरावली, लोकरी, पथरेड़ी, मौजाबाद, राठीवास,  घिलनावास गांवों के नाम शामिल हैं । इनके अलावा पांच महिलाएं सरपंच अनुसूचित जाति वर्ग से चुनी जानी है । अनुसूचित जाति वर्ग की महिला के लिए आरक्षण के ड्रा मे जिन पंचायतों अथवा गांवों के नाम सामने आए हैं वह क्रमशः खानपुर, रामपुर,  भूड़का, तेल पुरी और बिलासपुर गांव है । जहां पर आने वाले समय में चुनावों के दौरान देहात की सरकार की लगाम अनुसूचित जाति वर्ग की महिला के हाथों में होगी ।

इसी कड़ी में अनुसूचित वर्ग के लिए 10 पंचायतों अर्थात गांवों के नाम ड्रामे निकले गए हैं। जिन गांवों में पंचायत की चैधर अनुसूचित जाति वर्ग के लिए हाथों में रहेगी, उन गांवों में क्रमशः सैयद शाहपुर, लंगड़ा, फखरपुर,  मऊ,  मुमताजपुर, खलीलपुर, छावन, दिनौकरी, भोकरका और ढाणी कुंभवास गांव अथवा पंचायत शामिल हैं । इसके अलावा सामान्य वर्ग के लिए बचे गांव अथवा पंचायत के नाम क्रमशः, बस्तपुर, राजपुरा, मुजफ्फरा, मिर्जापुर, ब्रह्मणवास रहणवा,  छिल्लरकी, जट शाहपुर, दौलताबाद, देवलावास, डाडावास, गदाईपुर, रणसिका, पड़ासोली, नरहेड़ा, खेतीयावास, बोेहड़ाखुर्द, जसात, ऊंचा माजरा, खोड, गुढाना, हालियाकी, बोडह़ाकला, ग्वालियर, ततारपुर, कुकडोला, शेरपुर, बिलासपुर कला, दर्रापुर, नूरपुर, बाह्मणवास, लोहचाबका,  फाजिलवास, मिलकपुर, नानूकला, ढ़ानी शंकरवाली, मंगवाकी, गोरियावास, तुरकापुर, बिनोला और ढाणी चित्रसेन गांव अथवा पंचायत शामिल हैं ।

और नया पुराने