अपराध की पराकाष्ठा

घटना हेलीमंडी वार्ड 15 रेलवे लाइन के साथ जोहड़ की

शव को बांधा था 10-10 किलो के तीन पत्थरों के साथ

शुक्रवार सुबह सबसे पहले रेलवे के कर्मचारियों ने देखा

फतह सिंह उजाला
पटौदी ।
 पटौदी इलाके के हेलीमंडी नगर पालिका क्षेत्र में वार्ड 15 के जोहड़ में एक अज्ञात युवक का गला सड़ा शव बरामद हुआ है । प्रथम दृष्टया यह हत्या का मामला आका गया है । यह शव पटौदी रेलवे स्टेशन के साथ रेलवे और ब्रिज से कुछ ही दूरी पर रेलवे लाइन के साथ बने जोहड़ में देखा गया। इस शव पर सबसे पहले रेलवे लाइन पर काम करने वाले कर्मचारियों की नजर पड़ी। उन्होंने बिना देरी किए पटौदी स्टेशन अधीक्षक को इस मामले की जानकारी दी। इसके बाद जीआरपी चैकी पटौदी इंचार्ज भूपेंद्र सिंह घटना स्थल पर पहुंचे ।

हेलीमंडी क्षेत्र में जोहड़ के अंदर शव मिलने की सूचना पाकर पटौदी थाना प्रभारी सुरेश कुमार और हेली मंडी चैकी प्रभारी रविंद्र यादव भी मौके पर पहुंचें। लेकिन मामला रेलवे सीमा में होने के कारण जीआरपी के द्वारा ही कार्यवाही को अंजाम दिया गया । जानकारी के मुताबिक शुक्रवार को सुबह के समय रेलवे लाइन पर काम करने वाले कर्मचारियों ने रेलवे लाइन के साथ ही बने जोहड़ में शव पड़ा हुआ देखा। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची , गोताखोर की मदद से शव को बाहर निकाला गया।

पुलिस के साथ-साथ मौके पर मौजूद लोग उस वक्त हैरान और सन्न रह गए, जब शव के साथ में तीन पत्थर भारी-भरकम बांधे हुए थे । जीआरपी पटौदी चैकी प्रभारी के मुताबिक इन पत्थरों का औसतन वजन 10 किलो है और पत्थरों की संख्या तीन है। प्रथम दृष्टया हत्या की आशंका को भांपते हुए फॉरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंची । पुलिस का अनुमान है कि शव 5 से 6 दिन पहले का है और भारी-भरकम पत्थर बंधे होने के कारण पानी में डूबा होने के साथ दिखाई नहीं दिया । अनुमान है कि यह शव कम से कम 5 से 6 दिन पुराना है और पानी में डूबा होने के कारण फूलने सहित बुरी तरह से इसका चेहरा विकृत होने के कारण पहचान संभव नहीं रही। मृतक के शरीर पर मेहरूम रंग की शर्ट और क्रीम कलर की पेंट पहनी हुई बताई गई है ।

पुलिस के मुताबिक मृतक की उम्र 28 से 30 के बीच में आंकी गई है । जीआरपी पुलिस में शव मिलने के बाद इसकी पहचान के लिए आसपास के लोगों से भी संपर्क किया , लेकिन कोई पहचान नहीं हो सकी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है । जीआरपी चैकी प्रभारी भूपेंद्र सिंह के मुताबिक पोस्टमार्टम होने के बाद ही खुलासा हो सकेगा की शव वास्तव में कितने दिन पुराना है और किस प्रकार से इस अज्ञात युवक की मृत्यु हुई है । लेकिन जिन हालात में जोहड़ के अंदर युवक का शव मिला है उसे देखते हुए इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि निश्चित रूप से ही युवक की हत्या की गई है और कथित रूप से शव को खुर्द बुध करने की नियत से भारी भरकम तीन पत्थर बांधकर जोहड़ में फेंक दिया गया । वार्ड 15 हेलीमंडी की बस्ती और रेलवे ट्रैक के साथ बने जोहड़ में इस प्रकार से अज्ञात युवक का शव मिलने से लोगों में विभिन्न प्रकार की चर्चाएं हो रही है ।

और नया पुराने