स्ट्रीट वैंडर्स को पीएम स्वनिधि योजना का लाभ देने के लिए बैठक

निगम अधिकारियों सहित विभिन्न बैंकों के प्रतिनिधि बैठक में शामिल
   
फतह सिंह उजाला
गुरूग्राम।
 लॉकडाऊन से प्रभावित शहरी स्ट्रीट वैंडर्स के लिए आजीविकाध्रोजगार शुरू करने हेतु पीएम स्ट्रीट वैंडर्स आत्मनिर्भर निधि (पीएम स्वनिधि) योजना के तहत एक लघु ब्याज आधारित अनुदान ऋण की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी।
   
इस योजना का लाभ देने के लिए सोमवार को नगर निगम गुरूग्राम के कार्यालय में एक बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें नगर निगम अधिकारियों एवं विभिन्न बैंकों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। बैठक में बताया गया कि शहरी स्ट्रीट वैंडर्स को पीएम स्वनिधि योजना के तहत अपना रोजगार शुरू करने के लिए कम ब्याज पर 10 हजार रूपए तक का लोन दिया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत नगर निगम गुरूग्राम क्षेत्र के सभी स्ट्रीट वैंडर्स अर्थात रेहड़ी, पटरी, फेरीवालों आदि को लाभ मिलेगा। इस योजना की अवधि दो वर्ष की होगी। योजना के अंतर्गत लाभार्थियों के बारे में जानकारी देते हुए बताया गया कि 24 मार्च 2020 या उससे पहले विक्रय गतिविधियों में शामिल रहे स्ट्रीट वैंडर्स, शहरों में फेरी लगाने वाले पथ विक्रेता तथा शहरी क्षेत्रों के आसपास एवं ग्रामीण क्षेत्रों से आए पथ विक्रेता इस योजना के लाभार्थी रहेंगे।

ऋण हेतु पात्रता रू बैठक में बताया गया कि पीएम स्वनिधि योजना के तहत ऐसे पथ विक्रेता जिनको नगर निगम से विक्रय प्रमाण-पत्र या पहचान पत्र जारी किया गया हो, जो सर्वे सूची में हैं, लेकिन पहचान पत्र जारी नहीं हुए हैं पात्र होंगे। इसके अलावा, ऐसे स्ट्रीट वैंडर्स जो सर्वेक्षण में छूट गए थे या जिन्होंने सर्वेक्षण पूरा होने के पश्चात स्ट्रीट वैंडिंग का कार्य शुरू किया है, उन्हें नगर निकाय, टाऊन वैंडिंग द्वारा अनुशंसा पत्र जारी किया गया हो को इस लोन हेतु पात्र माना जाएगा।

योजना के लाभ रू पीएम स्वनिधि योजना के तहत मिलने वाले लाभ के बारे में जानकारी देते हुए बताया गया कि इस योजना के तहत प्रारंभिक कार्य करने हेतु 10 हजार रूपए तक के पूंजीगत ऋण की सुविधा मिलेगी। ऋण वापसी के लिए एक वर्ष में 12 मासिक किश्तों का माध्यम रहेगा तथा इस ऋण पर किसी भी प्रकार की बंधक गारंटी की आवश्यकता नहीं होगी। समय पर या समय से पूर्व ऋण वापसी करने पर 7 प्रतिशत की दर से ब्याज सब्सिडी दी जाएगी। डिजीटल लेनदेन पर 50 रूपए से 100 रूपए तक का कैशबैक प्रोत्साहन मिलेगा। प्रथम ऋण की समय पर वापसी पर अधिक ऋण की उपलब्धता भी होगी। योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए नगर निगम गुरूग्राम के कार्यालय में संपर्क किया जा सकता है। बैठक में नगर निगम गुरूग्राम के अतिरिक्त आयुक्त महावीर प्रसाद, सिटी प्रोजैक्ट ऑफिसर महेन्द्र सिंह, अग्रणी जिला प्रबंधक पीआर गोदारा, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के प्रबंधक आरके पाहुजा, पंजाब नेशनल बैंक के प्रबंधक मुकेश शर्मा, केनरा बैंक की एजीएम शिवानी नरूला, सैंट्रम माइक्रो केडिट के साहु उपाध्याय तथा वैंडिंग सर्वे एजेंसी आरईपीएल के प्रबंधक एसके शर्मा उपस्थित थे।
और नया पुराने