रामलीला कमेटी प्रबंधन के द्वारा खाली कराया गया रामलीला मैदान

सब्जी आढ़तियों और रामलीला कमेटी के बीच 30 तक समझौता

मार्केटिंग बोर्ड का फरमान जाटौली अनाज मंडी में लगे सब्जीमंडी

फतह सिंह उजाला
पटौदी । 
पटौदी नगर पालिका क्षेत्र में तावडू रोड पर बीते करीब 7 दशक से लग रही सब्जी मंडी को पटौदी में कोरोना कोविड-19 के मामले फैलने के बाद वहां से बदलकर जाटोली अनाज मंडी में शिफ्ट कर दिया गया था । लेकिन यहां अनाज की सरकारी खरीद आरंभ होने के बाद सब्जी मंडी को पटौदी बस अड्डे शिफ्ट करने का फरमान जारी किया गया, यह जगह सब्जी आढ़तियों को सूटेबल नहीं रही । इसके बाद मानवीय दृष्टिकोण को देखते हुए पाटोदी रामलीला कमेटी और पटौदी सब्जी मंडी वेलफेयर एसोसिएशन के बीच आपसी सहमति बनी कि 30 जून तक रामलीला मैदान पटौदी में सब्जी मंडी लगाई जाए । अब तय तारीख बीत चुकी है। ऐसे में सब्जी मंडी को लेकर सब्जी अंाढ़तियों के बीच असमंजस की स्थिति पैदा हो गई है कि गुरुवार को सब्जी मंडी कहां लगाई जाए ।

सूत्रों के मुताबिक मार्केटिंग बोर्ड पटौदी के द्वारा समय रहते ही पटौदी सब्जी मंडी वेलफेयर एसोसिएशन- आढ़तियों को लिखित में निर्देश दे दिए गए , कि अब वह अपनी आढ़त अथवा सब्जी बेचने के लिए जाटोली अनाज मंडी में ही पहले की तरह से की गई व्यवस्था का इस्तेमाल करें । सीधे और सरल शब्दों में की गुरुवार से जाटोली अनाज मंडी में ही सब्जी मंडी लगेगी और यहीं पर ही सब्जी की खरीद-फरोख्त का कार्य होगा ।
लेकिन इस बीच पटौदी रामलीला कमेटी प्रबंधन के द्वारा रामलीला मैदान खाली कराया जाने के बाद से वहां मैदान में बची हुई गली-सड़ी सब्जी को देखकर यह बात कहने में कतई भी गुरेज नहीं है कि अपना ठिकाना अथवा टेंट इत्यादि तो वहां से बदल दिए । लेकिन सैकड़ों क्विंटल गली सड़ी सब्जी को वहां रामलीला मैदान के अंदर खुले में ही छोड़ दिया गया है । कथित रूप से पटौदी में ही बुधवार को पांच नए कोरोना कॉविड 19 पॉजिटिव के के सामने आए हैं । इधर से मानसून सिर पर आ चुका है, बढ़ते तापमान के बीच में रामलीला मैदान में सड़ांध मार रही सब्जी के कारण आसपास के रहने वाले लोगों में बीमारियों को लेकर डर बन गया है । इधर समाचार लिखे जाने तक पटौदी सब्जी मंडी वेलफेयर एसोसिएशन के सदस्यों और आढ़तियों की सब्जी मंडी के मुद्दे को लेकर बैठक हो रही थी ।

वहीं इस मामले में मार्केट कमेटी पटौदी के सचिव नरेंद्र यादव का कहना है कि पटौदी के एसडीएम राजेश कुमार के द्वारा यह कहा गया है कि बतौर ट्रायल पटौदी शहर में ही तावडू रोड पर जहां पहले से ही सब्जी मंडी लगी आ रही थी दो-तीन दिन उसी स्थान पर ही सब्जी मंडी को लगने दिया जाए । अर्थात पहली और पुरानी सब्जी मंडी वाले स्थान पर ही सब्जियों की खरीद-फरोख्त की व्यवस्था के साथ-साथ इस दौरान होने वाली भीड़ का विश्लेषण किया जाए । सोशल डिस्टेंस के अलावा सरकार के अन्य आवश्यक निर्देशों का कितना पालन हो रहा है अथवा नहीं हो रहा है । इसके बाद ही सब्जी मंडी के लिए निर्धारित स्थान की घोषणा की जाएगी । फिलहाल सबसे बड़ी चिंता की बात यह है कि पटौदी रामलीला मैदान में सैकड़ों क्विंटल गली सड़ी पड़ी सब्जी को यथाशीघ्र मार्केटिंग बोर्ड पटौदी , पालिका प्रशासन के द्वारा साफ नहीं कराया गया तो कोरोना का ल्को देखते हुए इस बात से इंकार नहीं की बीमारियां फैलने में देर भी नहीं लगेगी ।
और नया पुराने