गुरुवार को पटौदी ब्लॉक में रिकॉर्ड तोड़ 27 पॉजिटिव केस दर्ज

बीते 4 दिनों में पॉजिटिव केस का आंकड़ा 67 पहुंच गया

फतह सिंह उजाला
पटौदी।
  जिला गुरुग्राम में कोविड-19 पॉजिटिव केस के मामले में केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह का राजनीतिक गढ़ पटौदी का पटौदी ब्लॉक अब पूरी तरह से कोविड-19 संक्रमण की चपेट में घिरता दिखाई दे रहा है । एक बार फिर जिला गुरुग्राम के कुल पॉजिटिव केस का 18 प्रतिशत पॉजिटिव केस पटौदी ब्लॉक में दर्ज किए गए हैं । यह आंकड़ा अपने आप में ग्रामीण अंचल के लिए आने वाले समय में कहीं और अधिक विस्तार ना ले ले, इसी बात को लेकर अब लोगों में डर-भय और आतंक बनने लगा है ।  कि आखिर ऐसा क्या और कौन सा कारण है कि कोविड-19 संक्रमण के मामले खासतौर से पटौदी ब्लॉक में ही सामने आ रहे हैं या फिर कोविड-19 संक्रमण पटौदी ब्लॉक में ही अपने पांव जमाता जा रहा है।

गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी बुलेटिन में बताया गया कि पटौदी ब्लॉक में रिकॉर्ड तोड़ 27 कोविड-19 पॉजिटिव केस दर्ज किए गए हैं । यह 27 का आंकड़ा अभी तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है । जारी सप्ताह की बात की जाए तो बीते 4 दिनों में पटौदी ब्लॉक में कोविड-19 पॉजिटिव केस का आंकड़ा 67 पहुंच गया है । जो कि निश्चित ही चिंता का विषय बन गया है । पटौदी ब्लॉक में सोमवार को 14 पॉजिटिव केस, मंगलवार को 8 पॉजिटिव केस , बुधवार को अट्ठारह पॉजिटिव केस दर्ज किए गए थे और अब गुरुवार को कोविड-19 ने प्रचंड रूप दिखाते हुए 27 के आंकड़े के साथ पटौदी ब्लॉक में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई है ।

बीते कुछ दिनों से बार-बार यह साफ तौर पर कहा जा रहा है कि पटौदी ब्लॉक जिला गुरुग्राम में हॉटस्पॉट के रूप में उभर कर सामने आने लगा है । पटौदी ब्लॉक में किस क्षेत्र में संक्रमित मामले अथवा संक्रमित व्यक्ति है , इस बात की जानकारी को सार्वजनिक करने में भी स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जी भर कर कंजूसी दिखाई जा रही है । किसी प्रकार की जानकारी देना जनहित में उचित नहीं समझा जा रहा है। पटौदी ब्लॉक की बात की जाए तो यहां पर 75 ग्राम पंचायतें , पटौदी नगरपालिका और हेलीमंडी पालिका शहरी क्षेत्र शामिल हैं । अब सवाल यह है कि गुरुवार को जो 27 पॉजिटिव केस स्वास्थ्य विभाग के बुलिटिन के अंदर बताए गए हैं , यह केस किस-किस इलाके , गांव या फिर पटौदी नगर पालिका और हेलीमंडी नगरपालिका के किन किन वार्डों से संबंधित हैं,  इस प्रकार की जानकारी बीते कई दिनों से मांगी जा रही है । लेकिन स्थानीय स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी किसी भी प्रकार की जानकारी को सांझा करना उचित नहीं समझ रहे हैं ।

इसका जो भी कारण हो वह स्वास्थ्य विभाग की अपनी सेहत के लिए अधिक हितकर हो सकता है। लेकिन संबंधित इलाकों की जानकारी छिपाया जाना आम आदमी के स्वास्थ्य के लिए घातक ही साबित हो रहा है। यह बात गुरुवार को सामने आ चुकी है कि बुधवार को पटौदी ब्लॉक में जिला गुरुग्राम के कुल पॉजिटिव केस का पटौदी ब्लॉक में 14 प्रतिशत पॉजिटिव केस दर्ज किए गए थे। 24 घंटे के अंदर ही पटौदी ब्लॉक में जिला गुरुग्राम के कुल पॉजिटिव केस में से 13 प्रतिशत केस अतिरिक्त गुरुवार को पटौदी ब्लॉक में सामने आ चुके हैं । अर्थात सीधे-सीधे शब्दों में कहा जाए तो गुरुवार को पटौदी ब्लॉक में जिला के मुकाबले 18 प्रतिशत कोविड-19 के  केस दर्ज किए गए हैं । यह आंकड़ा क्यों और किन हालात में बढ़ रहा है ? अपने आप में बहुत बड़ा सवाल है । वही सवाल एक और भी बनता है कि आखिर स्वास्थ्य विभाग और स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर काम करने वाले अन्य विभागों के कर्मचारी आम लोगों को जागरूक करने में कोविड-19 से बच के रहने के लिए कितना प्रेरित और जागरूक कर पा रहे हैं । यहां यह बात कहने में कतई भी संकोच नहीं है की बीजेपी के विधायक सत्य प्रकाश जरावता के निर्वाचन क्षेत्र और केंद्र में मंत्री राव इंद्रजीत सिंह के राजनीतिक गढ़ पटौदी हलके के पटौदी ब्लॉक अर्थात ग्रामीण इलाके में कोविड-19 अपनी जड़ें मजबूती से जमा कर चला जा रहा है । बढ़ते मामलों को देखते हुए कम से कम दोनों नेताओं को अपने स्तर पर जनहित को ध्यान में रखते हुए कुछ ना कुछ कठोर कदम उठाने ही होंगे । अन्यथा मानसून सिर पर आ चुका है और मानसून के दौरान जो सीजनल बीमारियां फूटेगी उन को देखते हुए इस बात से इंकार भी नहीं की कोविड-19 सीजनल बीमारियों के साथ मिलकर आने वाले समय में कहीं और भी विकराल रूप धारण ना कर ले । ऐसे में समय रहते केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह और पटौदी के विधायक सत्यप्रकाश चरावता को कोई ना कोई बेहतर रणनीति बनानी ही होगी । जिससे कि आम जनमानस कोविड-19 संक्रमण की चपेट में आने से बचा रहे सके या फिर लोगों को और उनके स्वास्थ्य को सुरक्षित रखा जा सके ।

अब बात करते हैं जिला गुरुग्राम की । जिला गुरुग्राम में गुरुवार को पॉजिटिव और नेगेटिव हुए केस का आंकड़ा 50-50 का ही रहा है । स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी बुलेटिन के मुताबिक गुरुवार को जिला गुरुग्राम में 151 कोविड-19 के नए पॉजिटिव केस दर्ज किए गए हैं । वही बीते 24 घंटे के दौरान स्वस्थ होने वालों का आंकड़ा 150 का रहा है । बीते 24 घंटे के दौरान गुरुग्राम में कोविड-19 एक व्यक्ति की और जान ले ली है, इस प्रकार अभी तक गुरुग्राम में कोविड-19 के कारण मरने वालों की संख्या 103 पहुंच गई है । गुरुग्राम में गुरुवार को एक्टिव केस की बात की जाए तो स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के मुताबिक यह संख्या 987 बताई गई है । अभी तक जिला गुरुग्राम में 6467 कुल पॉजिटिव केस कोविड-19 के दर्ज किए जा चुके हैं और इनमें से 5377 संक्रमित व्यक्ति स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किए जा चुके हैं।

और नया पुराने